समर्थक

शनिवार, जनवरी 02, 2010

"जन्म दिन का केक बिटिया ने काटा" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")

लेकिन मेरी 6 वर्षीया पौत्री कु0 प्राची
मिष्ठान केक काटने की जिद करने लगी।
और मम्मी का केक बिटिया ने काटा।

इस अवसर पर सरस पायस के सम्पादक रावेंद्रकुमार रवि
मेरा ममेरा भाई डॉ.इन्द्रदेव माहर, इनकी श्रीमती रजनी माहर,
दोनों बिटिया कु0 नन्दिनी, कु0 पल्लवी

प्राची की नानी जी, उनका पौत्र लक्की, पौत्री कु0 भारती,
प्राची का भाई प्राञ्जल, चाचा जी विनीत शास्त्री, पापा जी
नितिन शास्त्री,प्राची की सहपाठी सेजल गुप्ता, पीयूष गुप्ता,
दादी जी श्रीमती अमर भारती
और बड़े दादा जी श्री घासीराम आर्य और बड़ी दादी जी
श्रीमती श्यामवती देवी भी साथ थीं।

केक काटा गया और प्राची ने अपने छोटे-छोटे हाथों से
बड़े प्यार से सबको वितरित किया।

पुत्र-वधु के जन्म-दिन ने नव-वर्ष की खुशियाँ
वास्तव में दूनी कर दीं।

16 टिप्‍पणियां:

  1. अरे वाह!
    चित्रों में तो यह आयोजन
    और भी अधिक अच्छा लग रहा है!
    पुन: मेरी तरफ से स्नेहिल शुभकामनाएँ!

    संपादक : सरस पायस

    उत्तर देंहटाएं
  2. ऐसे अवसर पर सभी परिवार वालों की मौजूदगी कार्यक्रम को और सुखमय बना देती है..बढ़िया विवरण शास्त्री जी आपके परिवार के सभी सदस्यों प्राची सहित सभी को बहुत बहुत बधाई..

    उत्तर देंहटाएं
  3. बढ़िया विवरण ...... आपके परिवार के सभी सदस्यों प्राची सहित सभी को बहुत बहुत बधाई..

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत अच्‍छा लगा .. सौ कविता जी समेत सबों को बधाई एवं शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. अतिसुंदर। परिवार को नववर्ष के साथ जन्मदिन की भी बधाइयाँ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. आप सब को प्राची सहित बहुत बहुत बधाई.. बात तॊ खुशी मनाने की है केक काट कर बच्ची भी खुश हो गई, चित्र बहुत अच्छॆ लगे

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत बहुत बधाई।बहुत बढ़िया चित्र लगाए है।

    उत्तर देंहटाएं
  8. पुत्रवधू के जन्मदिन का वर्णन अच्छा लगा ....उन्हें जन्मदिन की बहुत बधाई....!!

    उत्तर देंहटाएं
  9. सौ कविता जी को बधाई एवं शुभकामनाएं !! आशीष तो है ही हमेशा बिटिया के साथ.

    उत्तर देंहटाएं
  10. पुत्रवधु को जन्म दिन की अनंत शुभकामनाएं.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुरानी सौ कविता को आशिष और साल गिरह की बधाई
    आपके समस्त परिवार को ,
    नव - वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएं भी प्रेषित कर रही हूँ
    बहुत स्नेह सहीत ,
    - लावण्या

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत-बहुत बधाइयां. बच्चों को तो खुशी मनाने और मस्ती करने का बहाना चाहिए!

    उत्तर देंहटाएं
  13. janamdin badon ka ho aur bachche cake katein isse badhiya kya hoga...........aakhir cake to hota hi bachhon ke liye hai..........janmdin ki bahut bahut badhayi aur prachi ko bahut bahut pyar.bahut hi badhiya aayojan raha.

    उत्तर देंहटाएं
  14. जन्मदिन की शुभकामनायें........बिटिया को हक़ है न केक काटने का.......इससे शानदार अवसर और क्या

    उत्तर देंहटाएं
  15. परिजनों की उपस्थिति में खुशी दूनी हो जाती है । श्रीमती कविता जी को जन्मदिन की बधाई तथा आप सब के लिये नव वर्ष मंगलमय हो

    उत्तर देंहटाएं
  16. shukria ,
    aapka bhara pura parivar dekh kar bahut accha laga.aap sab aise hi hamesha hil mil kar khushiyan manate rahein,yahi dua karti hoon.

    उत्तर देंहटाएं

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

कृपया नापतोल.कॉम से कोई सामन न खरीदें।

मैंने Napptol.com को Order number- 5642977
order date- 23-12-1012 को xelectron resistive SIM calling tablet WS777 का आर्डर किया था। जिसकी डिलीवरी मुझे Delivery date- 11-01-2013 को प्राप्त हुई। इस टैब-पी.सी में मुझे निम्न कमियाँ मिली-
1- Camera is not working.
2- U-Tube is not working.
3- Skype is not working.
4- Google Map is not working.
5- Navigation is not working.
6- in this product found only one camera. Back side camera is not in this product. but product advertisement says this product has 2 cameras.
7- Wi-Fi singals quality is very poor.
8- The battery charger of this product (xelectron resistive SIM calling tablet WS777) has stopped work dated 12-01-2013 3p.m. 9- So this product is useless to me.
10- Napptol.com cheating me.
विनीत जी!!
आपने मेरी शिकायत पर करोई ध्यान नहीं दिया!
नापतोल के विश्वास पर मैंने यह टैबलेट पी.सी. आपके चैनल से खरीदा था!
मैंने इस पर एक आलेख अपने ब्लॉग "धरा के रंग" पर लगाया था!

"नापतोलडॉटकॉम से कोई सामान न खरीदें" (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')

जिस पर मुझे कई कमेंट मिले हैं, जिनमें से एक यह भी है-
Sriprakash Dimri – (January 22, 2013 at 5:39 PM)

शास्त्री जी हमने भी धर्मपत्नी जी के चेतावनी देने के बाद भी
नापतोल डाट काम से कार के लिए वैक्यूम क्लीनर ऑनलाइन शापिंग से खरीदा ...
जो की कभी भी नहीं चला ....ईमेल से इनके फोरम में शिकायत करना के बाद भी कोई परिणाम नहीं निकला ..
.हंसी का पात्र बना ..अर्थ हानि के बाद भी आधुनिक नहीं आलसी कहलाया .....
--
मान्यवर,
मैंने आपको चेतावनी दी थी कि यदि आप 15 दिनों के भीतर मेरा प्रोड्कट नहीं बदलेंगे तो मैं
अपने सभी 21 ब्लॉग्स पर आपका पर्दाफास करूँगा।
यह अवधि 26 जनवरी 2013 को समाप्त हो रही है।
अतः 27 जनवरी को मैं अपने सभी ब्लॉगों और अपनी फेसबुक, ट्वीटर, यू-ट्यूब, ऑरकुट पर
आपके घटिया समान बेचने
और भारत की भोली-भाली जनता को ठगने का विज्ञापन प्रकाशित करूँगा।
जिसके जिम्मेदार आप स्वयं होंगे।
इत्तला जानें।